fix bar
fix bar
fix bar
fix bar
fix bar
fix bar

लेखक से भेंट कार्यक्रम

अब्दुल समद राही
सोजत सिटी। साहित्यकार एवं मासिकी ’जगमग दीप ज्योति‘ के सम्पादक सुमति कुमार जैन ने कहा कि साहित्यकार समाज को दिशा देता है। अपनी रचनाओं के माट्टयम से दीपक बन रोशनी फैलाता है। जो जीवन को चमकाने में अपनी महती भूमिका अदा करता है।
वे शबनम साहित्य परिषद् के तत्वावट्टाान में स्थानीय सिलावट मोहल्ले में आयोजित कार्यर्म ’लेखक से मिलिए‘ में सम्बोट्टिात कर रहे थे। उन्होंने अपने साहित्य अनुभव को भी साहित्यकारों से साझा किया। इस मौके पर संस्था द्वारा जैन को ’साहित्य सि=हस्त सम्मान‘ की मानद उपाट्टिा से कार्यर्मअ के अट्टयक्ष कैलाशदान चारण, मुख्य अतिथि वीरेन्ध् लखावत व संस्था अट्टयक्ष अब्दुल समद राही द्वारा सम्मान-पत्र, उपरना व साहित्य भेंट कर सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। हिन्दी, उर्दू, राजस्थानी रचनाकारों ने भाषायी त्रिवेणी का रसास्वादन कराते हुए काव्य पाठ किया, जिसमें ओजकवि नवदीत राय रूचिर, कवि कथाकार रशाीद गाौरी, गीतकार अमरसिंह राजपुरोहित, कैलाशदान चारण, वीरेन्ध् लखावत, अब्दुल समद राही, जगदीश गहलोत, व्यंग्यकार उमाशंकर द्विवेदी तथा युवाकवि सुनील आशिया आदि ने अपनी हास्य-व्यंग्य रचनाओं की प्रस्तुति दी।
कार्यर्मि में रिहाना रानू, एस. मोहम्मद टांक, रूबिना सिलावट, अयूब मिस्त्री, अनवर पठान, इकबाल, फकीर मोहम्मद, शबनम टांक, इम्तियाज राही, अकशा टांक, अलीना आदि गणमान्य जन ने अपनी भागीदारी निभाई। कार्यर्मक का सरस संचालन कवि रशीद गौरी ने किया।
प्रसतुति : अब्दुल समद राही