fix bar
fix bar
fix bar
fix bar
fix bar
fix bar

साहित्य समाचार

मधु काँकरिया को बिहारी पुरस्कार
हिन्दी की जानी-मानी कथाकार मधु कांकरिया के उपन्यास हम यहां थे को वर्ष 2021 के बिरला फाउंडेशन के बिहारी पुरस्कार के लिए चुना गया है। मधु कांकरिया ने सन् 2000 में अपने पहले उपन्यास खुले गगन के लाल सितारे से लेकर अब तक सलाम आखिरी, पत्ताखोर, सेज पर संस्कृत और सूखते चिनार जैसे चर्चित उपन्यासों के माध्यम से उपन्यास लेखन में अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई है। हम यहां थे सन् 2018 में किताबघर से प्रकाशित उनका छठा उपन्यास है। इनके अलावा उनके आधा दर्जन कहानी संग्रह भी प्रकाशित हैं।
नाथद्वारे का कवि मनीषी सम्मान नाहटा को
सुपरिचित वरिष्ठ कवि और साहित्यकार विजय सिंह नाहटा को नाथद्वारा की प्रतिष्ठित संस्था साहित्य मंडल द्वारा हिन्दी कवि मनीषी की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया है। देश की सभी नामचीन पत्र-पत्रिकाओ में इनकी कविताएँ शामिल हुई है। नाहटा को सम्मान में उपाधि पत्र , श्री नाथ जी का चित्र , अंग वस्र , शाल , मेवाडी पगडी व कण्ठहार प्रदान किया गया।
रूपा सिंह को इजिप्ट में सम्मान
प्रसिद्ध साहित्यकार, कवि, समालोचक और कबीर साहित्य के मर्मज्ञ डॉ. सीताराम दीन जी की स्मृति में दिया जानेवाला वर्ष 2020-21 का सम्मान वरिष्ठ आलोचक, कथाकार तथा कवयित्री डॉ. रूपा सिंह को दिया जायेगा ।
न्यास प्रमुख डॉ. मंगला रानी (पटना) के अनुसार कि डॉ.सिंह को 19 वें अंतरराष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन, मिस्र (इजिप्ट - 6 से 16 जून 2022) में डॉ. सीताराम दीन - डॉ. उषा रानी सिंह स्मृति न्यास, पटना द्वारा सम्मान स्वरूप नगद राशि, प्रशस्ति पत्र, प्रतीक चिन्ह आदि के अलंकृत किया जायेगा ।
डॉ. रामप्रसाद दाधीच पुरस्कार उषा दशोरा और डॉ. वीणा चूडावत को
जोधपुर । डॉ रामप्रसाद दाधीच साहित्य सम्मान 2020 और 2021 उषा दशोरा और डॉ वीणा चूंडावत को प्रदान किए गए । डॉ वीणा चूंडावत को उनके कहानी संग्रह राग मेघ मल्हार और उषा दशोरा को उनकी कविता की पुस्तक भाषा के सरनेम नहीं होते पर प्रदान किए गए। परिषद की महामंत्री डॉ. पद्मजा शर्मा ने बताया कि दोनों सम्मानित रचनाकारों को सम्मान राशि इक्यावन सौ रुपए के साथ श्री फल, प्रशस्ति पत्र तथा शॉल भेंट किए गए । निर्णायक मण्डल में थे डॉ सत्यनारायण, डॉ. कौशलनाथ उपाध्याय तथा डॉ. पद्मजा शर्मा ।
- डॉ. पद्मजा शर्मा
गीत ऋषि ताराप्रकाश जोशी की स्मृति में हुआ ऐतिहासिक कार्यक्रम
गीत ऋषि स्वर्गीय ताराप्रकाश जोशी जी की स्मृति में शनिवार 26 फरवरी को जयपुर के रवीन्द्र मंच पर हमकलाम और डॉ ताराप्रकाश जोशी मेमोरियल फाउन्डेशन के तत्वावधान में शानदार आयोजन हुआ .
इस अवसर पर देश के सुप्रसिद्ध गीतकार माहेश्वर तिवारी जी को पहला ताराप्रकाश जोशी स्मृति सम्मान से नवाजा गया . मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्व. जोशी की स्मृति को सादर नमन करते हुए इस आयोजन की सफलता के लिए अपनी शुभ कामनाएँ प्रेषित की। इस अवसर अखिल भारतीय कवि सम्मेलन हुआ जिसमें देश के जाने माने गीतकारों ने अपने गीत प्रस्तुत कर स्वर्गीय जोशी को श्रद्धासुमन अर्पित किए।