श्री चन्द्रकान्त देवताले

-अकादमी परिवार




ख्यातनाम कवि श्री चन्द्रकान्त देवताले का जन्म ७ नवम्बर, १९३६ को मध्यप्रदेश में हुआ। हड्डियों में छिपा ज्वर, दीवारों पर, खून से, लकडबग्धा हँस रहा है, रोशनी के मैदान की तरफ, भूखंड तप रहा है, आग हर ची*ा में बताई गई थी, पत्थर की बेंच, इतनी पत्थर रोशनी, उसके सपने, बदला बेहद महँगा सौदा, उजाड में संग्रहालय आदि उनके प्रसिद्ध कविता संग्रह हैं। माखनलाल चतुर्वेदी कविता पुरस्कार, मध्यप्रदेश शासन द्वारा शिखर सम्मान, सृजन भारती सम्मान, अ.भा. मैथिलीशरण गुप्त सम्मान आदि से सम्मानित चन्द्रकांत देवताले ने विपुल साहित्य का सृजन किया।
-अकादमी परिवार